loader

PCOS से पीड़ित महिलाएं इन आसान तरीकों से घटा सकती हैं वज़न

Foto

नई दिल्ली: पीसीओएस (PCOS) एक ऐसी स्थिति है जो महिलाओं को प्रभावित करती है जिसकी वजह से असन्तुलित हार्मोन्स, अनियमित मासिक-चक्र और दोनों अंडाशय में छोटे अल्सर का विकास हो जाता है। करीब 7 प्रतिशत महिलाएं इस सिंड्रोम से पीड़ित हैं। इतना ही नहीं, इस सिंड्रोम की वजह से इंफ्लामेशन और इंसुलिन प्रतिरोध हो जाता है जिससे महिलाओं के लिए वज़न कम करना मुश्किल हो जाता है।

आपको यह जानकर हैरानी होगी कि शरीर के एक छोटे से हिस्से का भी वज़न घटाना स्थिति के बेहतर होने पर निर्भर करता है। वज़न समग्र बेहतर स्थिति के साथ जुड़ा हुआ है। तो, आज हम बता रहे हैं कि कैसे PCOS से पीड़ित महिलाएं इन 8 तरीकों से वज़न घटाने को आसान बना सकती हैं। 

PCOS से वज़न क्यों बढ़ता है?

जो महिलाएं पीसीओएस से पीड़ित होती हैं उनमें पुरुष हार्मोन्स ज़्यादा होते हैं। ये महिलाएं इंसुलिन प्रतिरोध हो जाती हैं, वज़ बढ़ जाता है और कई मामलों में मोटापे के शिकार हो जाती हैं। इस स्थिति की वजह से दिल के दौरे का खतरा बढ़ जाता है, नींद आने में दिक्कत होती और भी कई तरह की समस्याएं शुरू हो जाती हैं।

खाने में कार्ब का सेवन कम करें

कार्ब्स सीधे आपके इंसुलिन स्तर पर असर डालता है, इसलिए अगर कार्ब्स खाने में कम दिया जाए तो काफी हद तक मदद मिल सकती है। एक अध्ययन में पाया गया कि PCOS, मोटापे और इंसुलिन प्रतिरोध की शिकार महिलाओं ने पहले तीन हफ्तों तक एक डाइट को अपनाया, जिसमे 40 प्रतिशत कार्ब्स और 45 प्रतिशत वसा शामिल थी। इसके बाद उन्होंने एक बार फिर तीन हफ्तों की एक डाइट फोलो की जिसमें 60 प्रतिशत कार्ब्स और 25 प्रतिशत वसा शामिल थी। इन दोनों डाइट्स में 15 प्रतिशत प्रोटीन भी शामिल था। 

इसका नतीजा ये निकला कि दोनों डाइट्स के दौरान ब्लड शुगर लेवेल एक जैसा था, लेकिन पहली डाइट के दौरान इंसुलिन का स्तर 30 प्रतिशत गिर गया था।

ज़्यादा फाइबर खाएं

फाइबर खाने से आपको लंबे समय तक भूख नहीं लगती और ऐसे आप खाने के बीच में चिप्स, नमकीन या बिस्किट जैसी चीज़ें नहीं खाते। उच्च फाइबर सेवन सीधे इंसुलिन प्रतिरोध, शरीर में वसा कम होना और महिलाओं में पेट के निचले हिस्से में वसा कम होने से जुड़ा हुआ है।

प्रोटीन और हेल्दी फैट्स ज़्यादा खाएं

खाने में अगर आप प्रोटीन लेते हैं तो भोजन के बाद आपको पेट भर हुआ लगेगा, जिससे रक्त शर्करा को स्थिर करने में मदद मिलती है। ये आपको ज़्यादा कैलोरी घटाने में भी मदद करता है जिससे आपका वज़न भी कम हो जाएगा।

किण्वित यानी Fermented खाना खाएं

​किण्वित खाद्य पदार्थ चयापचय को बढ़ावा देते हैं और वज़न को प्रबंधित करने में मदद करते हैं। आम महिलाओं की तुलना में PCOS से पीड़ित महिलाओं में स्वस्थ आंत के बैक्टीरिया कम होते हैं। ​किण्वित खाद्य पदार्थ खाने से इन महिलाओं को मदद मिल सकती है। 

मीठा और प्रोसेस्ज़ड फूड से दूर रहें 

अगर आप प्रोसेस्ज़ड फूड खाना छोड़ दें तो आप ज़्यादा आसानी से वज़न कम कर लेंगे। मीठा और प्रोसेस्ज़ड फूड आपका ब्लड शुगर लेवेल भी बढ़ा देता है, जिससे मोटापे के शिकार हो जाते हैं। 

रोज़ाना वर्कआउट करें

स्वस्थ डाइट के साथ रोज़ाना वर्कआउट करने से आप आसानी से वज़न घटा लेंगे। कार्डियो और वेट ट्रेनिंग की मदद से PCOS से पीड़ित महिलाएं वज़न घटा सकते हैं।

कम न खाएं

कम खाने या फिर अपने आप को भूखे रखने से आप कभी भी वज़न कम नहीं कर सकते। जबकि कम खाने से आपका मेटाबॉलिज़म धीमा हो जाता है, जिससे वज़न बढ़ता है। कम खाने से आपके हार्मोन नकारात्मक रूप से प्रभावित होते हैं।

पर्याप्त नींद लें

नींद आपके शरीर को फिर से जीवंत और रिफ्रेश करने में मदद करती है। नींद की कमी भूख को बढ़ाने वाले हार्मोन की गतिविधि को बढ़ाती है, जिससे आप पूरे दिन ज़्यादा खाते हैं। कई ऐसे अध्ययन हुए हैं जिसमें पाया गया है कि जो लोग पर्याप्त नींद नहीं लेते हैं उनका अच्छी नींद सोने वाले लोगों के मुकाबले मोटापे की चपेट में आने का खतरा ज़्यादा होता है।



Comments







बॉयोस्कोप

सिटी

प्रदेश