loader

'छपाक' देख इंप्रेस हुए रणवीर सिंह, जमकर की दीपिका-मेघना की तारीफ

Foto

दीपिका पादुकोण की फिल्‍म छपाक आज (10 जनवरी) सिनेमाघरों में रिलीज हो गई है. फिल्‍म देखने के बाद फैंस और प्रशंसक दीपिका और विक्रांत मैसी की इस फिल्‍म को डायरेक्‍टर मेघना गुलज़ार की बेहतरीन फिल्‍मों में से एक बता रहे हैं. अब इसपर दीपिका के पति और बॉलीवुड अभिनेता रणवीर सिंह का रिएक्‍शन सामने आया है. 

उन्‍होंने एक पोस्‍ट लिखा है जिससे साफ है कि इस फिल्‍म ने उनके दिल को भी छुआ है. वे दीपिका और मेघना दोनों से बेहद इंप्रेस हैं. उन्‍होंने लिखा,' मेघना आपकी फिल्‍म लोगों को उम्‍मीद और ताकत देती हैं.'

उन्‍होंने आगे कहा,' यह फिल्‍म इंसानियत की अच्‍छाई और बुराई दोनों को दिखाती है. यह एक ऐसे विषय को स्पष्ट करती है जिसे हमने केवल सुना लेकिन कभी भी पूरी तरह से समझा नहीं. यह कहानी आपको अंदर तक हिला देती है. कहानी आपको अपने मूल में ले जाती है और फिर आपको अपनी भावनाओं को उभारने तक वीरतापूर्वक उठाती है. तलवार, राज़ी और अब छपाक..मैं कहता हूँ "ब्रावो!"

उन्‍होंने आगे‍ लिखा,' मैंने आपको इस विशेष कृति के लिए अथक प्रयास करते देखा है. आप इस परियोजना के पीछे लगी रहीं और यह फिल्म की आत्मा हैं. यह आपके काम की सबसे महत्वपूर्ण किस्त है. आप इरादे और कार्रवाई ईमानदारी के साथ काम करते हैं. आपने चुनौतियों के माध्यम से संघर्ष किया, अपने डर का सामना किया, अपने संघर्षों पर काबू पाया और आज आप और आपकी टीम हमारे समय की फिल्मों में से एक के निर्माता के रूप में विजयी रहे.'

दीपिका के बारे में उन्‍होंने लिखा,' आपका प्रदर्शन सब कुछ है. इसने मुझे अंदर तक हिलाया और मेरे साथ भी रहा. मैं आपके काम से विचलित हूं. मालती के साथ आपने जो हासिल किया है, वह चौंका देने वाला और हैरान करने वाला है. एक चमकता हुआ रत्न. मुझे तुमसे प्यार है. मुझे आप पर गर्व है.'

बता दें कि फिल्‍म एसिड सर्वाइवर लक्ष्‍मी अग्रवाल पर आधारित है. मिडिल क्लास में जन्मीं लक्ष्मी अग्रवाल ने सिंगर बनने का सपना देखा था. लेकिन 32 वर्षीय एक युवक ने उनसे शादी करने की प्रस्‍ताव रखा जिसे लक्ष्मी ने मना कर दिया था. जिसके बाद युवक ने उनपर एसिड फेंक दिया था. लक्ष्‍मी उस समय मात्र 15 साल की थीं.

इसके बाद साल 2006 में लक्ष्मी अग्रवाल ने एसिड की बिक्री पर प्रतिबंध लगाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में एक पीआईएल दाखिल की थी. इसके बाद साल 2013 में कोर्ट ने एसिड की बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया. फिलहाल वह आलोक दीक्षित और आशीष शुक्ला के स्टॉप एसिड अटैक के कैंपेन से वह जुड़ी हैं. 



Comments







बॉयोस्कोप

सिटी

प्रदेश