loader

‘छपाक' में एसिड हमले की पीड़िता की वकील को श्रेय क्यों नहीं दिया?

Foto

नयी दिल्ली: दिल्ली उच्च न्यायालय ने शुक्रवार को दीपिका पादुकोण अभिनीत फिल्म 'छपाक' के निर्माताओं से सवाल किया कि उन्होंने एसिड हमले की पीड़िता लक्ष्मी अग्रवाल की वकील को उनसे ली गयी जानकारी के लिए श्रेय क्यों नहीं दिया. फिल्म 'छपाक' लक्ष्मी अग्रवाल के जीवन पर आधारित है और यह शुक्रवार को सिनेमाघरों में प्रदर्शित हुई.

अदालत ने फॉक्स स्टार स्टूडियो की एक याचिका पर सुनवाई के दौरान फिल्म के निर्माता और निर्देशक से सवाल किया. याचिका में अदालत के गुरुवार के आदेश को चुनौती दी गयी है जिसमें अधिवक्ता अपर्णा भट्ट के योगदान को देखते हुए उन्हें श्रेय देने को कहा गया था.

न्यायमूर्ति प्रतिभा एम सिंह ने याचिका पर आदेश सुरक्षित रख लिया और कहा कि अदालत शनिवार सुबह फैसला सुनाएगी. अदालत ने सवाल किया कि वकील को श्रेय देने में क्या कठिनाई है और निर्माता उनसे जानकारी मांगने क्यों गए थे.

इस पर फिल्म निर्देशक मेघना गुलजार की ओर से पेश वरिष्ठ वकील संदीप सेठी ने कहा कि पक्षों के बीच कोई अनुबंध नहीं था और जानकारी मांगने से उन्हें श्रेय देने का कोई कानूनी अधिकार नहीं है. फिल्म निर्माता फॉक्स स्टार स्टूडियोज की ओर से पेश वरिष्ठ वकील राजीव नायर ने कहा कि सुनवाई अदालत ने आदेश पारित करने से पहले उनका पक्ष नहीं सुना और अंतरिम तथा एक पक्षीय फैसला दिया जो असामान्य है.



Comments







बॉयोस्कोप

सिटी

प्रदेश