loader

पेट्रोल डालकर युवक को जिंदा जलाया, अस्पताल में इलाज के दौरान मौत

Foto

हजारीबाग. हजारीबाग जिले के इचाक थाना क्षेत्र में एक लगभग 40 वर्षीय व्यक्ति को जिंदा जलाकर हत्या कर दी गयी।घटना के संबंध में मृतक के पुत्र पिंटू साव ने बताया कि उसके पिता मंगलवार की शाम चार बजे घर से निकले थे। रात में घर नहीं लौटे तो इस संबंध में जब मां से पूछा तो उसने बताया कि बगल में कीर्तन हो रहा है, शायद वहीं गए होंगे।

बुधवार की सुबह पांच बजे गांव के ही किसी व्यक्ति ने फोन करके बताया कि ईचाक मोड़ क्रशर मंडी के समीप खेत में उनके पिता घायलावस्था में छटपटा रहे हैं, पिता बुरी तरह जले हुए हैं।

मृतक के बेटे पिंटू साव ने सन्देह जताया है कि उसके पिता को बांधकर जिंदा जलाया गया है। पुत्र पिंटू के अनुसार उसके पिता ने मरने से पूर्व बताया कि डुमरौन निवासी रवींद्र मेहता ने उसे जलाया है। 

रवींद्र मेहता का डुमरौन में क्रशर है। उसी के क्रशर में मृतक की पत्नी सरस्वती देवी करीब चार वर्षों से मजदूर का काम करती थी।

बताया जा रहा है कि पन्नू साव पिछले दिनों क्रशर पर पत्नी के काम करने को लेकर रवींद्र मेहता से मिला था और उनमें कुछ कहासुनी भी हुई थी। इसके बाद उसने पत्नी को क्रशर पर जाने से मना कर दिया था। इन्हीं कारणों से पिछले चार दिनों से वह काम करने नहीं गई थी। 

क्रशर मालिक की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी

बहरहाल मृतक पन्नू साव के द्वारा मृत्यु से पूर्व दिए गए बयान के आधार पर प्रशिक्षु आईपीएस राकेश रंजन, डीएसपी विवेकानंद ठाकुर रुद गांव पहुंचकर मामले की छानबीन में जुटे हैं। 

वहीं इचाक पुलिस क्रशर मालिक रवींद्र मेहता की गिरफ्तारी को लेकर उसके ठिकाने पर छापेमारी कर रही है। 



Comments







बॉयोस्कोप

सिटी

प्रदेश