loader

झारखंड में शुरू हुआ कोरोना जांच का महाअभियान, मरीजों के आधार पर होगा लॉकडाउन का फैसला

Foto

राज्य में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सभी जिलों में शुक्रवार से तीन दिनों का विशेष जांच अभियान शुरू किया गया। स्वास्थ्य विभाग ने अभियान के तहत सभी जिलों में कोरोना जांच के लिए लक्ष्य निर्धारित कर दिया है। इसके आधार पर शुक्रवार से सैंपल कलेक्शन और जांच शुरू की गई। शुक्रवार को रांची जिले में देर शाम तक लगभग 1050 संदिग्धों के सैंपल लिए गए। स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव डॉ नितिन मदन कुलकर्णी ने बताया कि जांच अभियान का परिणाम देखने के बाद ही लॉकडाउन पर फैसला लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि राज्य के सभी जिलों में यह अभियान रविवार तक चलेगा। इस दौरान आरटीपीसीआर, ट्रूनेट व रैपिड एंटीजेन के माध्यम से लगभग एक लाख सैंपलों की जांच की जाएगी। डॉ कुलकर्णी ने बताया कि जांच में पॉजिटिविटी का कितना प्रतिशत आता है, उसी के आधार पर आगे राज्य में लॉकडाउन का निर्णय लिया जाएगा। आरटीपीसीआर के लिए कंटेनमेंट जोन से लिए जाएंगे सैंपल : स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव डॉ नितिन मदन कुलकर्णी ने इस अभियान के लिए सभी जिलों के डीसी व सिविल सर्जनों को पूरी निगरानी में सैंपल कलेक्शन व जांच की हिदायत दी है। आरटीपीसीआर टेस्ट के लिए पूरी निगरानी में कंटेनमेंट जोन से 1 अगस्त तक सैंपल लिए जाएंगे। जांच अभियान में ज्यादा से ज्यादा ट्रूनेट मशीन का भी उपयोग करने को कहा गया है। वहीं संक्रमण की ज्यादा संभावना वाले क्षेत्रों में रैपिड एंटीजेन टेस्ट किए जाएंगे। अभियान के दौरान 50 वर्ष से अधिक व विभिन्न रोगों से ग्रस्त मरीजों की पहचान व जांच पर विशेष जोर दिया गया है। वैसे मरीज जिनमें लक्षण के साथ साथ कांटेक्ट हिस्ट्री भी है, लेकिन एंटीजेन जांच में रिपोर्ट नेगेटिव आएगी उनकी दुबारा जांच आरटीपीसीआर से की जाएगी। रांची में 3816 जांच का लक्ष्य : स्वास्थ्य विभाग ने अभियान के तहत रांची जिले को 3816 जांच का लक्ष्य दिया है। इसमें ट्रूनेट से 150, आरटीपीसीआर से 666 व रैपिड एंटीजेन से 3000 जांच का लक्ष्य निर्धारित है। वहीं धनबाद को 2714, पूर्वी सिंहभूम को 3144, पश्चिमी सिंहभूम को 1484 व हजारीबाग को 2337 जांच का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसी प्रकार सभी जिलों के लिए आरटीपीसीआर, ट्रूनेट व एंटीजेन जांच का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।



Comments







बॉयोस्कोप

सिटी

प्रदेश