loader

Engineer's Day 2020: इंजीनियर्स डे को बनाएं खास इन मैसेज और कोट्स के साथ

Foto

यह दिन इंडिया में इंजीनियर्स के उत्कृष्ट कार्यों को सराहने और उनके सम्मान में मनाया जाता है। महान इंजीनियर मोक्षगुंडम विश्वेश्वरय्या का जन्मदिन (15 सितंबर, 1860) होने के कारण हर साल इसे मनाया जाता है। न केवल इंडिया बल्कि श्रीलंका व तंजानिया में भी उनकी याद में इंजीनियर डे इसी दिन मनाया जाता है। विश्वेश्वरय्या अपनी उत्कृष्ट सेवाओं के लिए भारत रत्न से भी पुरस्कृत हो चुके हैं। उन्हें आम बोलचाल में सर एमवी नाम से माना जाता है। उन्हें ब्रिटिश राज में नाइटुहड की उपाधि भी नवाजी गई थी। इंजीनियर्स को ही मानव जीवन में रचनात्मक बदलाव का श्रेय जाता है। तो इस दिन उन्हें प्यार भरे मैसेज और कोट्स भेजकर उन्हें बताएं कि वो हैं कितने खास। National Engineer's Day Wishes in Hindi 1. जो ऊंचाई पर जाने से नहीं डरता जो गिरने से नहीं डरता जो एग्जाम से नहीं डरता वही असल इंजिनियर है होता। 2. पूरे चार साल जो जानवर सा जीता है जो सेशनल के पीछे कॉलेज को जाता है जो 33 नंबर के लिए पूरी एक रात जागता है कुछ आए ना आए एग्जामिनर के लिए जो लिखकर आता है अरे भाईयों वही तो एक दिन इंजीनियर बन पाता है। 3. जो खिलोने के टूटने से रोता नहीं, जो फेल होने से डरता नहीं, कोड कितना ही फट जाए पर वो किए बिना मानता नहीं। 4. कोई पागल कहे या आवारा यही होता हैं इंजिनियर बेचारा जो फ़ेल होने पर हंसता है जो रात में जागता दिन में सोता हैं उल्लू नही है यारो आज के टाइम में यही इंजिनियर कहलाता है। Engineer's Day Quotes - बचपन में जो खिलोने को तोड़कर खुश होता है असल में वही बड़ा होकर इंजिनियर बन सकता है। - एक अच्छा इंजिनियर वही है जो किताबी ज्ञान को वास्तविक रूप दे पाए। - जो Ctrl + C और Ctrl + V का सही इस्तेमाल जानता है वही एक अच्छा इंजीनियर बन सकता है। - इंजीनियर सफलता से नहीं असफलता से बनता है। - जो सेशनल मार्क्स की परवाह नहीं करते अंत में वही अच्छे इंजीनियर बनते हैं। - जो मिड टर्म में कॉलेज आना भूल जाए वही सफल इंजीनियर कहलाता है। - किताबों के ज्ञान को खटमल की तरह चूस लेने से कोई इंजीनियर नहीं बनता। - जो चल कर उपर जाता हैं और गिरता हुआ नीचे आता हैं लेकिन फिर मुस्कुराता हुआ दौड़कर ऊपर जाता है असल में वही शिखर पर अपना घर बनाता है। - हर इंसान इंजीनियर है कुछ मकान बनाते हैं कुछ सॉफ्टवेयर बनाते हैं कुछ मशीन बनाते हैं और कुछ सपने बनाते हैं और हम जैसे उनकी कहानियों को स्याही में डुबोकर उन्हें अमर बनाते हैं।



Comments







बॉयोस्कोप

सिटी

प्रदेश