loader

शादी के 17 दिन बाद महिला ने दिया बच्चे को जन्म, प्रेमी को बचाने के लिए पिता-भाई पर दर्ज कराया गैंगरेप का फर्जी केस

Foto

नौ महीने पहले पिता और भाई समेत 10 लोगों के खिलाफ लगे गैंगरेप के आरोप का मंगलवार को महिला थाना पुलिस ने खुलासा कर दिया। मामले में पीड़िता ने अपने प्रेमी को बचाने के लिए कहानी गढ़ी था। पुलिस ने आरोपित प्रेमी को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया है। उत्तर प्रदेश में उन्नाव जिले के एक गांव की महिला की शादी लखनऊ के बंथरा क्षेत्र में हुई थी। शादी के 17 बाद ही महिला ने बच्चे को जन्म दिया। इससे मायके व ससुरालीजनों में हड़कंप मच गया। मामला बढ़ा तो महिला ने अपने सगे पिता-भाई समेत 10 लोगों पर गैंगरेप का आरोप लगाते हुए महिला थाने में केस दर्ज करा दिया। पिता-भाई पर दुष्कर्म का केस दर्ज होने के बाद मामला उलझ गया। जांच में जुटी पुलिस ने नामित लोगों से पूछताछ की और सभी का डीएनए टेस्ट कराया। डीएनए रिपोर्ट आने के बाद पुलिस ने नामजद दिलीप निवासी कमदूमपुर कैथी थाना बंथरा लखनऊ का नाम आया। सोमवार देर शाम पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार किया और मंगलवार को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया। आरोपी ने पुलिस पूछताछ में बताया कि पीड़िता के साथ उसके सबंध थे और वह गर्भवती हो गई। उधर, कुछ दिन बाद उसकी शादी हो गई और उसने बच्चे को जन्म दे दिया। गिरफ्तारी करने वाली टीम में महिला आरक्षी पायल सेंगर, नीरज, दीक्षित यादव व चालक अमर सिंह रहे।



Comments







बॉयोस्कोप

सिटी

प्रदेश