loader

घनी आबादी के बीच सालों से एक घर में बंद रह रहे थे 3 विक्षिप्त भाई, किसी ने नहीं ली खबर

Foto

सरायकेला : सरायकेला- खरसावां जिले के आदित्यपुर थाना क्षेत्र से दिल दहला देनेवाला मामला प्रकाश में आया है। जहां रोड नंबर 12 के एक घर से पुलिस ने सड़ा- गला शव बरामद किया है। यहां की घनी आबादी के बीच यह एक ऐसा घर है, जहां सालों से तीन विक्षिप्त भाई समाज से अलग कटकर घर में बंद रहते थे। इसी बीच छोटे भाई दीपेश की मौत हो गई। मंगलवार को देर रात में घर से बदबू आने पर पड़ोसियों ने इसकी सूचना आदित्यपुर थाना पुलिस को दी। बुधवार को सुबह आदित्यपुर थाना पुलिस के पहुंचने पर घर किसी ने जब घर नहीं खोला तो, पुलिस ने छत के सहारे मकान में प्रवेश किया। वहीं अंदर का नजारा देखने के बाद पुलिस के होश उड़ गए। घर के एक कमरे में एक भाई मरा पड़ा था, जिसके शरीर से बदबू आ रही थी। वहीं शव के पास ही दूसरा भाई अचेतावस्था में था। जबकि तीसरा भाई भीड़ देख का फायदा उठाकर कहीं भाग गया। वहीं इस घटना के बाद ईलाके में सनसनी फैल गयी। घर में 15 सालों से बिजली, पानी की व्यवस्था नही बताया जाता है कि यह घर स्वर्गीय बी प्रसाद का है, जो टाटा स्टील में कार्यरत थे। 15 साल पहले उनकी मौत हो चुकी है।



Comments







बॉयोस्कोप

सिटी

प्रदेश