loader

Interview: 'वजन बढ़ने से मेरे घुटनों में दर्द रहने लगा था'- कृति सैनन, ‘मिमी’ में प्रेग्नेंट दिखने के लिए एक्ट्रेस ने किया ये सब

Foto

नेटफ्लिक्स और जियो सिनेमा पर रिलीज को तैयार ‘मिमी’ में मुख्य भूमिका निभा रही हैं कृति सैनन। सरोगेसी के मुद्दे को उठा रही इस फिल्म का दारोमदार कृति के कंधों पर है। फिल्म, सरोगेसी व अन्य मुद्दों पर उन्होंने साझा किए अपने जज्बात... क्या पूरी फिल्म की जिम्मेदारी लेने के लिए आप हमेशा से तैयार थीं?मैं ऐसी ही फिल्म तलाश रही थी। ‘बरेली की बर्फी’ मेरे लिए मील का पत्थर साबित हुई थी, जब मैंने अपने कंफर्ट जोन से बाहर निकलकर काम किया था। फिर ‘लुका छुपी’ ने अच्छी कमाई की। खुद पर विश्वास और बढ़ गया कि मैं जैसी फिल्में कर रही हूं, वह दर्शकों को अच्छी लग रही हैं। रिस्क लेने का आत्मविश्वास बढ़ गया। जब मेरी परफॉर्मेंस की सराहना हुई तो बतौर एक्टर मुझे बढ़ावा मिला कि अब मैं परफॉर्मेंस वाले किरदार के साथ फिल्म को अपने कंधे पर उठा सकती हूं। ‘मिमी’ की शुरुआती लाइनें सुनते ही मैंने तय कर लिया था कि यह फिल्म करूंगी। सरोगेसी जैसा अहम मुद्दा बैकड्राप में है। ऐसे विषयों पर जब फिल्में बनती हैं, तो कई बार गंभीर हो जाती हैं, लेकिन मुझे लगता है कि गंभीर विषय को अगर हंसी-मजाक में बताया जाए, तो बात जल्दी समझ में आती है। फिल्म में 70 प्रतिशत कॉमेडी है, शेष जरूरी इमोशंस हैं। सरोगेसी एक बहुत ही निजी च्वाइस है। आपकी इस पर क्या राय है? अगर किसी जोड़े को बच्चा पैदा करने में दिक्कत आ रही है और वह बच्चा गोद नहीं लेना चाहते हैं तो उनके लिए यह एक खूबसूरत तरीका है। इसके जो नियम है, वह दोनों तरफ से सुरक्षित होने चाहिए। ‘मिमी’ की कहानी 10-12 साल पहले सेट की गई है। हमारी फिल्म इसी विषय पर बनी एक मराठी फिल्म से प्रेरित है।



Comments







बॉयोस्कोप

सिटी

प्रदेश