loader

सम्‍भल में असदुद्दीन ओवैसी के पोस्‍टर पर व‍िवाद, ल‍िखा-गाज‍ियों की धरती, भाजपाई बोले-नहीं बदल सकता इत‍िहास

Foto

सम्भल में एआइएमआइएम के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी की सभा से जुड़ी एक फ्लैक्सी ने नए विवाद को जन्म दे दिया है। सिरसी में होने वाली जनसभा स्थल पर लगी फ्लैक्सी में सम्भल को गाजियों की धरती लिखा गया है। इसका भाजपाई विरोध कर रहे हैं। असदुद्दीन ओवैसी बुधवार की शाम कस्बा सिरसी में एक जनसभा को संबोधित करेंगे। उनकी पार्टी के पदाधिकारियों ने यहां पर फ्लैक्सी लगाई है। जिसमें लिखा गया है कि यह धरती गाजियों की है। यह जानकारी जैसे ही भाजपा नेताओं को लगी तो उन्होंने इसे धार्मिक स्थल बताते हुए सम्भल के इतिहास गिना दिए। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के क्षेत्रीय उपाध्यक्ष राजेश सिंघल ने कहां क‍ि यह धरती धार्मिक थी, धार्मिक है और धार्मिक रहेगी। यहां पर पृथ्वीराज चौहान की राजधानी रही है। भगवान श्री कृष्ण यहां पर रुके थे। हरि बाबा जैसे संत यहां पर जन्मे हैं और इसी धरती पर भगवान कल्कि का अवतार होना है। कोई भी ताकत सम्भल के इतिहास को बदल नहीं सकती। जो लोग इस धरती को गाजियों की धरती बता रहे हैं वह समझ लें कि उनका कोई भी मंसूबा पूरा नहीं हो पाएगा। ओवैसी सम्भल से करेंगे चुनाव प्रचार की शुरुआत : एआइएमआइएम नेता असदुद्दीन ओवैसी ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों की तैयारी शुरू कर दी है। वे आज सिरसी के दौरे पर आ रहे हैं। सिरसी में एक जनसभा को संबोधित करेंगे। ओवैसी पश्चिमी उत्तर प्रदेश में चुनाव प्रचार की शुरुआत सम्भल से इसलिए कर रहे हैं। क्योंकि पिछले विधानसभा चुनाव में पार्टी प्रत्याशी का प्रदर्शन यहां अच्छा रहा था और पार्टी प्रत्याशी दूसरे स्थान पर रहा था। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए कार्यकर्ताओं ने गांव गांव शहर शहर जाकर लोगों से जनसंपर्क किया। इस दौरान वरिष्ठ कार्यकर्ता सैयद असलम ने कहा कि गांव गांव जाकर तैयारी की जा रही है।



Comments







बॉयोस्कोप

सिटी

प्रदेश